28 Shares 97 Views
00:00:00
19 Feb
f1312594-5122-42a9-ad77-a62d85e8cbf6

अस्थायी कर्मी की मौत के बाद शव के साथ हुआ पथ-अवरोध

सिलीगुड़ी टाइम्स प्रतिनिधि: Feb 13, 2018

रायगंज के बीएसएनएल कार्यालय से काम खोने वाले अस्थायी कर्मी काजल सरकार की मौत रायगंज के सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल में हो गयी है। उसके साथी कर्मचारियों का आरोप है कि काजल 15 साल तक बीएसएनएल कार्यालय में अस्थायी कर्मचारी के तौर पर कार्यरत रहा।

आरोप है कि बीएसएनएल ने 2016 से इन अस्थायी कर्मचारियों का वेतन देना बंद कर दिया। इसके बाद उसी वर्ष नवम्बर महीने से ये अस्थायी कर्मचारी वेतन की मांग में आंदोलन पर उतर पड़े थे। आईएनटीटीयूसी भी इन अस्थायी कर्मचारियों के वेतन एवं फिर से इन्हें नौकरी देने की मांग पर आंदोलन पर उतरा था।

इसी बीच काम नहीं होने के चलते रायगंज सर्किल के करीब 150 अस्थायी कर्मी आर्थिक तंगी से गुजर रहे थे। इन्हीं में से एक काजल सरकार भी थे। आर्थिक अभाव में गंभीर बीमारी का शिकार हो जाने पर भी वे अपना इलाज ढंग से नहीं करा पा रहे थे।

2d3d1c25-72ac-45f1-9f24-5ca8b0d91455

सोमवार रात को पेट के रोग के कारण उन्हें रायगंज के सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां रात को ही उनकी मौत हो गयी। उनके निधन की खबर मिलते ही जिला आईएनटीटीयूसी अध्यक्ष अरिंदम सरकार अस्पताल पहुंचे और शोक संतप्त परिवार के प्रति संवेदना जतायी।

उन्होंने आरोप लगाया कि बीएसएनएल कार्यालय की लम्बी उपेक्षा एवं केंद्र सरकार की गलत नीतियों के चलते बिना इलाज के काजल सरकार की मौत हुई। इधर बीएसएनएल के अस्थायी कर्मियों ने काजल सरकार की मौत के विरोध में उनका शव लेकर रायगंज के सिलीगुड़ी मोड़ पर पथ-अवरोध किया।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Shares
error: Content is protected !!