Breaking News
Home / समाचार / उत्तर बंगाल / अस्पताल में नर्स के खिलाफ बच्चा बदलने के आरोप

अस्पताल में नर्स के खिलाफ बच्चा बदलने के आरोप

मालदा मेडिकल कॉलेज-अस्पताल की नर्स के खिलाफ बच्चा बदलने के आरोप उठे हैं। हालांकि, बाद में माता-पिता को उनकी खुद की संतान मिल गयी। इस घटना के बाद अस्पताल परिसर में तनाव का माहौल देखा गया।

ज्ञात हुआ है कि बुधवार रात को इंग्लिशबाजार के नरहाट्टा अंचल के लक्ष्मीघाट की निवासी सागरी बसाक को प्रसव पीड़ा होने पर एंबुलेंस से मालदा मेडिकल कॉलेज-अस्पताल में ले जाया जा रहा था, लेकिन एंबुलेंस में ही सागरी बसाक ने बच्चे को जन्म दे दिया। बच्चे के जन्म के बाद सागरी बसाक के पति स्वरूप मंडल ने मोबाइल फोन में बच्चे की तस्वीर ले ली थी।

एंबुलेंस जब मालदा मेडिकल कॉलेज-अस्पताल पहुंची तो नर्सें नवजात को नहलाने के लिये ले गयी। स्वरूप मंडल ने आरोप लगाया है कि रात करीब 12 बजे नर्सों ने आकर उनसे कहा कि बच्चे की हालत गंभीर है और उन लोगों ने स्वरूप मंडल से कुछ कागज़ातों पर हस्ताक्षर करवाये। कुछ समय बाद नर्स ने एक मृत बच्चे को परिवार वालों को सौंप दिया, जिसे देख वे लोग रोने लगे।

परिवार वालों को जब संदेह हुआ तो उन लोगों ने मोबाइल फोन की तस्वीर से बच्चे का चेहरा मिलाया तो देखा कि मृत बच्चा उनका नहीं है। इसके बाद अस्पताल परिसर में तनाव का स्थिति उत्पन्न हो गई। इधर, घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस अस्पताल पहुंची। हालांकि, बाद में अस्पताल की नर्स ने अपनी गलती स्वीकार कर ली और सागरी देवी को उनका बच्चा सौंप दिया। ऐसे में नर्स ने इतनी बड़ी गलती कैसे हुई, यह जानने के लिये पुलिस जांच कर रही है।

Check Also

माकपा को उम्मीद : पहाड़ पर नहीं गिरेंगे एकतरफा वोट

पहाड़ में इस बार एकतरफा वोट होना असंभव है। अशोक भट्टाचार्य का कहना है कि …