चैटरबॉक्स-स्पीकर्स इंस्टीट्यूट, सिलीगुड़ी

संचार हमारे रोजमर्रा के जीवन में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। चाहे वह हमारा व्यक्तिगत या व्यावसायिक जीवन हो, उचित संचार दिन की आवश्यकता है। ग्लोसोफोबिया, सार्वजनिक बोलने का डर, दुनिया में सबसे बड़ा भय होता है।


चैटरबॉक्स-स्पीकर्स इंस्टीट्यूट बच्चों के लिये एक ऐसी संस्था है, जो उन्हें सार्वजनिक स्थानों पर लोगों के बीच बोलने का तरीका सिखाती है। चौटरबॉक्स का सिद्धांत ऐसे बच्चों को अपनी बात रखना, अपने भाव प्रकट करना आदि सिखाती है, जिन्हें सार्वजनिक स्थानों पर लोगों के बीच बात करने में संकोच महसूस होता है।


चैटरबॉक्स, अपने “आउट ऑफ द बॉक्स” पाठ्यक्रम के माध्यम से 8 से 18 वर्ष की आयु के बच्चों को वह मंच प्रदान करता है, जहां वे अपने भय को भुला कर सार्वजनिक स्थानों पर बोलने के अपने अवरोधों को दूर करने का प्रयास करता है। राष्ट्र भर में कई बच्चों के जीवन को बदलने के लिए चैटरबॉक्स ने एक मंच प्रदान किया है। चैटरबॉक्स-स्पीकर्स इंस्टीट्यूट का हेड ऑफिस सिलीगुड़ी में स्थित है।

चैटरबॉक्स 3 महीने का कोर्स देता है, जिसमें प्रत्येक सप्ताह छात्रों को 2 घंटे की क्लास दी जाती है। स्टेज फ्राइट, आई कॉन्टैक्ट, बॉडी लैंग्वेज, स्पीच डिलीवरी एवं एनएलपी चैटरबॉक्स की एकाग्रता के कुछ क्षेत्र हैं। चैटरबॉक्स व्याकरण या भाषा नहीं सिखाता और केवल अंग्रेजी भाषा तक ही सीमित नहीं है।

गत 8 सितंबर को  सिलीगुड़ी के पीबीआर टॉवर में चैटरबॉक्स की तरफ से भाषण प्रतियोगिता के ग्रैंड फिनाले का आयोजन किया गया था, जहां लगभग 40 बच्चों ने भाग लिया। इन बच्चों ने चैटरबॉक्स-स्पीकर्स इंस्टीट्यूट में अपना लेवल 1 बेसिक कोर्स पूरा किया था। प्रतिभागियों के माता-पिता और रिश्तेदारों को भी इस कार्यक्रम में आमंत्रित किया गया था।

चौटरबॉक्स के सह-संस्थापक धीरज के गोल्यान और जोसेफ सेबेस्टियन की पहल पर आयोजित इस फिनाले को दो श्रेणियों में विभाजित किया गया था-जूनियर और सीनियर वर्ग। प्रतियोगिता की निर्णायक मंडली में अन्य क्लबों और संगठनों के सदस्यों को बुलाया गया था। दोनों वर्गों से तीन-तीन विद्यार्थियों को विजयी चुना गया। सभी प्रतिभागियों को अपना पाठ्यक्रम पूरा होने का प्रमाणपत्र दिया गया।

चौटरबॉक्स की 3 क्लासेस सिलीगुड़ी में, 1 गुवाहाटी में, 3 कोलकाता में, 1 रांची में, 2 जयपुर में, एक देहरादून में और 2 नेपाल के काठमांडू में चल रही है।

चैटरबॉक्स युवाओं में आत्मविश्वास पैदा करता है और उनका मार्गदर्शन करता है कि वे सबसे अच्छे संचारक बन सकें। 2023 के अंत तक चैटरबॉक्स का लक्ष्य भारत के 100 शहरों और 5 अंतर्राष्ट्रीय शहरों में विस्तार करना है।

 

 

 

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.