कूचबिहार में अलकायदा के सक्रिय सदस्य को 7 वर्ष का सश्रम कारावास

कूचबिहार, 3 अक्टूबर (नि.सं.)। कूचबिहार अतिरिक्त जिला सत्र न्यायालय ने आज अलकायदा के एक सक्रिय सदस्य को 7 वर्ष के सश्रम कारावास की सजा सुनाई है। इसके साथ ही उसे पांच हजार रुपये जुर्माना भी भरना होगा। जुर्माना न चुकाने की सूरत में उसके कारावास की अवधि 6 माह और बढ़ जाएगी।


गौरतलब है कि स्वपन सरकार नामक अलकायदा के इस सक्रिय सदस्य को कूचबिहार के अतिरिक्त जिला सत्र न्यायाधीश सुकुमार सूत्रधर ने गत एक अक्टूबर को दोषी करार दिया था। आज उसके लिए सजा की घोषणा हुई। वर्ष 2014 की 28 अक्टूबर को कूचबिहार शहर के धर्मशाला इलाके में एक कंप्यूटर सेंटर में अलकायदा के सक्रिय सदस्य स्वपन सरकार ने विभिन्न तथ्यों को निकालकर प्रिंट करवाया था। उसके पास से अलकायदा की एक पत्रिका इंस्पायर भी बरामद की गई थी।

इस किताब में मुख्य रूप से यह बात बताई गई थी कि घर में किस प्रकार बम बना कर विनाश कार्य किया जाये। इसके बाद गुप्त सूत्रों से जानकारी मिलने पर उसे पुलिस ने उसी दिन गिरफ्तार कर लिया था। अलकायदा के सक्रिय सदस्य को इस प्रकार सजा मिलना उत्तर बंगाल में अपनी तरह की पहली घटना है। मामला चुकि यूएपी एक्ट के अधीन था, इसलिए सरकार के उच्च अधिकारियों ने इस मामले की छानबीन की थी।


प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.