Breaking News
Home / उत्तर बंगाल / मोबाइल टॉवरों की सुरक्षा में लगे कर्मियों को प्रताड़ना बंद करने की मांग में हुआ प्रदर्शन

मोबाइल टॉवरों की सुरक्षा में लगे कर्मियों को प्रताड़ना बंद करने की मांग में हुआ प्रदर्शन

उत्तर बंगाल में मोबाइल टॉवरों की सुरक्षा में लगे कर्मियों को प्रताड़ित करना बंद किया जाए। उन्हें बर्खास्त या निलंबित न किया जाए, उनका वेतन हर महीने समय पर भुगतान हो, बकाया वेतन की अदायगी जल्द की जाए, सुरक्षा कर्मी जिसके मातहत रहते हैं, उन एजेंसियों की फेरबदल न की जाए।

इनके वेतन की वृद्धि की जाए, पीएफ व ईएसआइ आदि मांगो को लेकर माकपा समर्थित ट्रेड यूनियन सीटू अनुमोदित सेक्यूरिटी एंड को-अलाइड वर्क मेंस यूनियन की उत्तर बंग समन्वय समिति ने मंगलवार को संयुक्त श्रम आयुक्त के कार्यालय के सामने प्रदर्शन किया गया।

इसके साथ ही संयुक्त श्रम आयुक्त को ज्ञापन भी सौपा। सीटू नेता व यूनियन के संयोजक गौतम घोष ने कहा कि इन मांगों को लेकर हमने गत वर्ष सात दिसंबर को भी ज्ञापन दिया था व 21 दिनों की मोहलत देते हुए समाधान की मांग की थी। मगर, न तो संबंधित कंपनियों व उनकी एजेंसियों ने कुछ किया और न ही शासन-प्रशासन की कानों पर जूं रेंगी। फिर एक बार हमने अपनी मांगों को लेकर संयुक्त श्रम आयुक्त, उत्तर बंगाल के आइजी, उत्तर बंगाल के सभी जिलों के डीएम व एसपी, सिलीगुड़ी के पुलिस कमिश्नर व उत्तर बंगाल के हरेक जिला में सभी सर्किल इंस्पेक्टर व सभी थानों के प्रभारियों को ज्ञापन की प्रतिलिपि भेजी है।

mobile2

उन्होंने कहा कि अब अविलंब हमारी मांगों को पूरा नहीं किया गया और किसी भी मोबाइल टॉवर के सुरक्षा कर्मी को बर्खास्त या निलंबित करने का नोटिस दिया गया या वेतन अथवा पारिश्रमिक पर रोक लगाई गई तो हम संबंधित कंपनी के सभी टॉवरों में बेमियादी काम बंद कराने को बाध्य होंगे।

Check Also

मालदा में बम विस्फोट में दो की मौत, 5 घायल

मंगलवार दोपहर कालियाचक थाने के साइलापुर गांव में बम विस्फोट में दो लोगों की मौत …