नस्लवादी टिप्पणी की घटना की जांच करेंगे हाईकोर्ट के पूर्व न्यायाधीश

उत्तरबंग विश्वविद्यालय की बांग्ला प्राध्यापिका के खिलाफ जातिवादी टिप्पणी करने के आरोप उठे हैं। इस घटना की जांच का जिम्मा अब कोलकाता हाई कोर्ट के पूर्व न्यायाधीश प्रणव चट्टोपाध्याय को सौंपा गया है। शुक्रवार को विश्वविद्यालय की ई.सी. कमिटी की बैठक के बाद उपकुलपति डॉ. सुमिरेश भट्टाचार्य ने उक्त बात बताई।


गौरतलब है कि कुछ महीने पहले उत्तरबंग विश्वविद्यालय की प्राध्यापिका मंजुला बेरा के खिलाफ जातिवादी टिप्पणी करने के आरोप उठे थे। इस घटना की उचित जांच की मांग में कुछ दिन पहले विद्यार्थियों द्वारा आवाज़ा उठाई गई। इसे लेकर विश्वविद्यालय में तनाव का माहौल भी उत्पन्न हुआ। विद्यार्थियों एवं विश्वविद्यालय के कर्मचारियों के बीच हाथापाई की घटना तक सामने आई थी।

इस संबंध में एक अलग कमिटी का भी गठन किया गया है। शुक्रवार को की गई बैठक में यह निर्धारित किया गया कि पूर्व न्यायाधीश इस घटना की निरपेक्ष जांच करेंगे।


 

 

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.