रेलवे के निजीकरण के विरुद्ध एनएफ रेलवे मजदूर यूनियन ने किया प्रदर्शन 

सिलीगुड़ी, 23 अक्टूबर। भारतीय रेल ने 4 अक्टूबर को देश में पहली प्राइवेट ट्रेन तेजस एक्सप्रेस चलाई है। ये ट्रेन दिल्ली से लखनऊ के बीच चलती है। अब खबर है कि रेलवे 50 अन्य ट्रेन और 100 रेलवे स्टेशन को निजी हाथ में सौंप सकती है। इसी के विरोध में देश के विभिन्न मंडलों में रेलवे यूनियनों ने बुधवार यानि की आज विरोध प्रदर्शन किया।


इसी कर्म में एनएफ रेलवे मजदूर यूनियन की एनजेपी शाखा ने भी देर शाम गेट मीटिंग व काला दिवस पालन किया। गेट मीटिंग देर शाम एनजेपी स्टेशन के समीप शुरू हुई। रेलवे मजदूर यूनियन के एनजेपी शाखा के तरफ से बताया गया है कि गेट मीटिंग आल इंडिया रेलवेमेंस फेडरेशन की और से बुलाई गयी थी। इस गेट मीटिंग में यूनियन के सदस्यों ने काला बिल्ला लगाकर काला दिन पालन किया साथ ही रेलवे के निजीकरण के विरुद्ध प्रदर्श व नारेबाजी किया।


प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.