समय पर वेतन नहीं, अस्थायी कर्मचारियों ने चुनाव बहिष्कार का बनाया मन

बीएसएनएल टेलीकॉम सिक्योरिटी यूनियन (एसटीएसएसईयू) संगठन से जुड़े अस्थाई कर्मचारियों ने गुरुवार को सिलीगुड़ी जर्नलिस्ट्स क्लब में एक पत्रकार सम्मेलन कर बताया कि बकाया वेतन न मिलने पर इस बार उनका संगठन लोकसभा चुनाव का बहिष्कार करने जा रहा है।


एसटीएसएसईयू संगठन के सिलीगुड़ी जोन के सचिव अशोक दास ने बताया कि उन लोगों ने इस समस्या को लेकर कई बार सिलीगुड़ी के बीएसएनएल कार्यालय का घेराव किया और घरने पर भी बैठे हैं। इतना ही नही इस समस्या के समाधान के लिए कई बार विभिन्न विभागों को पत्र भी लिखे हैं, लेकिन कोई समाधान नहीं हुआ है। इसके बाद उन लोगो ने इसी वर्ष दिल्ली जाकर टेलीकॉम विभाग के सीएमडी को अपनी समस्याओं के बारे में अवगत कराया और एक पत्र भी दिया, लेकिन फिर भी अब तक कोई समाधान नहीं हुआ है।


उन्होंने आगे कहा कि लेबर एक्ट के तहत कर्मचारियों को प्रत्येक महीने की 7 तारीख को वेतन मिल जाना चाहिये, लेकिन बीएसएनएल और केन्द्र सरकार दोनों ही इस एक्ट की अवहेलना कर रही है। इन्हीं सारी वजहों से उन लोगों ने लोकसभा चुनाव का बहिष्कार करने का मन बनाया है।

वहीं, पहाड़ जोन के सचिव प्रमेश प्रधान ने कहा कि इस संगठन के पहाड़ पर 150 और समतल मे 200 अस्थाई कर्मचारी हैं। वेतन न मिलने के कारण ये लोग को परिवार न चला पाने के साथ ही अपने बच्चो की पढ़ाई-लिखाई भी नहीं करवा पा रहे हैं। उन्होंने कहा की चुनाव बहिष्कार के साथ-साथ आगामी आठ अप्रैल से उसका संगठन रिले अनशन पर बैठने जा रहा है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.