सरकार ने ई-सिगरेट पर लगाई रोक, नियम तोड़ने पर जेल के साथ जुर्माना भी

नई दिल्ली, 18 सितंबर। केंद्र सरकार ने ई-सिगरेट पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगा दिया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में आज हुई बैठक में कैबिनेट ने ई-सिगरेट पर पाबंदी का फैसला लिया। कैबिनेट ने भारत में ई-सिगरेट के उत्पादन, आयात, निर्यात, ट्रांसपोर्ट,बिक्री, डिस्ट्रीब्यूशन, स्टोरेज और विज्ञापन पर प्रतिबंध लगा दिया गया है।


ई-सिगरेट का सेवन करने से व्यक्ति को डिप्रेशन होने की संभावना दोगुनी हो जाती है। एक शोध के मुताबिक जो लोग ई-सिगरेट का सेवन करते है, उन्हें हार्ट अटैक का खतरा 56 प्रतिशत तक बढ़ जाता है। पत्रकार सम्मलेन के माध्यम से वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया कि सरकार ने ई-सिगरेट पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने का फैसला लिया है। इसके लिए एक अध्यादेश लाया गया है।

प्रस्तावित अध्यादेश में उल्लंघन करने पर अधिकतम एक साल की सजा और एक लाख रुपये के जुर्माने का प्रावधान किया गया है। उन्होंने कहा कि युवाओं की सेहत पर ई-सिगरेट का जो असर हो रहा है, उसे ध्यान में रखते हुए प्रतिबंध का फैसला लिया है।


 

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.