Breaking News
Home / मनोरंजन / सती प्रथा का अंत करने वाले राजा राम मोहन राय को गूगल की सलामी

सती प्रथा का अंत करने वाले राजा राम मोहन राय को गूगल की सलामी

गूगल की ओर से आजन डूडल बनाकर महान समाज सुधारक राजा राम मोहन राय को उनकी 246वीं जयंती पर याद किया गया है। राजा राम मोहन राय देश में ‘आधुनिक भारत के निर्माता’ और ‘पुनर्जागरण काल के जनक’ के तौर पर पहचाने जाते हैं। राजा राम मोहन राय ने समाज सुधार के लिए कई बड़े आंदोलन चलाये, जिनमें सती प्रथा को खत्म करना सबसे अहम है। आज गूगल ने समाज के लिये उनके द्वारा किये गये योगदान के चलते गूगल ने डूडल बनाकर उन्हें सलाम किया है।

राजा राम मोहन राय का जन्म 22 मई, 1772 को पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद जिले के राधानगर में हुआ था। वह अद्वैतवाद के समर्थक थे और उन्होंने कट्टर हिंदू रीति रिवाजों और मूर्ति पूजा के खिलाफ बचपन से ही आवाज उठानी शुरू कर दी थी। गौरतलब है कि उनके पिता रमाकांत राय भी एक हिंदू ब्राह्मण थे। उन्होंने धर्म और विश्वास पर अपने पिता के साथ मतभेद के चलते बहुत कम उम्र में ही घर छोड़ दिया।

करीब 200 साल पहले जब समाज में सती प्रथा जोरों पर थी, तब राजा राम मोहन राय ने इसे जड़ से खत्म करने में सबसे अहम भूमिका निभाई थी। उन्होंने सती प्रथा का कड़ा विरोध किया। उन्होंने महिलाओं के लिए समान अधिकारों के लिए मुहिम चलाई और विधवा विवाह व संपत्ति के हक के लिए भी लोगों को जागरूक किया।

Check Also

फ्रेंडशिप डे के रंग में रंगे सिलीगुड़ी के बाज़ार

फ्रेंडशिप डे को लेकर कार्ड और तोहफों से सिलीगुड़ी की दुकानें सज गई हैं। मौके …