सोशल मीडिया के जरिये पैनिक फैलाने का हो रहा प्रयास : मुख्यमंत्री

आतंकवादियों का कोई धर्म नहीं होता। आतंकवाद के खिलाफ एकजुट होकर लड़ने के लिये हम प्रतिबद्ध हैं, लेकिन कुछ लोग इसकी आड़ में सोशल मीडिया पर दुष्प्रचार कर रहे हैं। इससे अशांति की आशंका दिखाई दे रही है। राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने आज नवान्न में पत्रकारों के समक्ष कहा कि गत 48 घंटों से सोशल मीडिया पर कुछ लोग दुष्प्रचार चला रहे हैं। बंगाल एक शांतिप्रिय जगह है और इस प्रकार के दुष्प्रचार से अशांति की आशंका दिखाई दे रही है। उन्होंने कहा कि हम आतंकवाद के विरुद्ध मिल कर लड़ने के लिये प्रतिबद्ध हैं, पर कुछ लोग और संगठन इसकी आड़ में पैनिक पैदा करने का प्रयास कर रहे हैं। कुछ बाहरी लोग यहां सांप्रदायिक दंगा लगाने के प्रयास में हैं। उन्होंने लोगों से अपील की कि इस प्रकार की अफवाहों पर कान न दें और सभी मिल जुल कर खड़े रहें।


मुख्यमंत्री ने पुलिस को निर्देश दिये कि ऐसी कोई घटना होने पर कोई भी लापरवाही न हो और तुरंत कार्रवायी की जाये। मुख्यमंत्री ने सवाल उठाये कि इंटेलीजेंस रिपोर्ट होने के बावजूद पुलवामा में इतनी बड़ी घटना किस प्रकार घट गई। इस संबंध में उन्होंने केंद्र सरकार पर लापरवाही के आरोप लगाये। उन्होंने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि पांच साल में भाजपा सरकार ने कुछ नहीं किया, जबकि उनके नेता नरेंद्र मोदी और अमित शाह राजनैतिक वक्तव्य दे रहे हैं।  


प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.