कोरोना ने सभी पूजा-पाठ पर लगा दी ग्रहण, बाजार की रौनक फीकी

blank

सिलीगुड़ी, 15 सितंबर (नि.सं.)। इस बार कोरोना के कारण विश्वकर्मा पूजा भी असर पड़ने जा रहा है।17 सितंबर को पूजा है, लेकिन बाजार में कहीं भी रौनक नहीं दिख रही है। वहीं, मूर्तिकार मायूस दिख रहे हैं। इस साल कोरोना ने सभी पूजा-पाठ पर ग्रहण लगा दी है।


गणेश पूजा से लेकर सभी पूजा को छोटे तरीके से मनाया गया है।मूर्ति बेचने वालों ने कहा कि इस साल पहाड़ पर ज्यादा पूजा नहीं हो रहे है। इस लिये मूर्ति पहाड़ पर नहीं जा रहा है।जिसके चलते स्वाभाविक रूप से मूर्ति बाजार में मंदी देखी जा रही है।

पूजा के दौरान पहाड़ में काफी मूर्तियों को भेजा जाता था।एक व्यवसायी ने कहा कि हर साल की तुलना में इस साल कम प्रतिमाएं बनाई गई हैं।उनका अनुमान है कि इस बार पूजा की संख्या भी घट सकती है, इसलिए वे लोग काफी चिंता में है। अब तो भगवान ही मालिक है। दो वक्त की रोटी कैसे मिले इसको लेकर अब मूर्ती विक्रेता भी परेशान हैं।


प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.