ई-रिक्शा पर दिखी पुलिस की सख्ती, कई काफी संख्या में टोटो जब्त

सिलीगुड़ी, 23 नवंबर (नि.सं.)। सिलीगुड़ी में ई-रिक्शा को राष्ट्रीय राजमार्गों पर आवाजाही करने पर पाबंदी लगा दी। इतना ही नहीं शहर की मुख्य सड़कों पर बिना नंबर के सभी टोटो पर रोक लगा दी गई है। उसके बाद से लगातार धड़पकड़ शुरू हो गई है। पुलिस नियम को मनवाने के लिए समय-समय पर नंबर और बिना नंबर वाले ई -रिक्शा को जब्त भी करती है। जिसको लेकर अक्सर झमेला भी होता है। लेकिन इस बार मेट्रोपॉलिटन पुलिस ने सख्ती कार्रवाई की है।


पिछले तीन दिनों से मेट्रोपॉलिटन की ट्रैफिक विभाग मुख्य सड़कों पर दौरने वाले बिना नंबर के ई रिक्शा को पकड़ कर कमिश्रनरेट मैदान में जब्त कर रख रही है। पुलिस की एका एक इतनी सख्ती को लेकर अब ई-रिक्शा मालिक और चालकों के पसीने छूट रहे है।

उल्लेखनीय है कि बीते दो दिनो पहले ट्रैफिक विभाग ने ई-रिक्शा को लेकर अभियान शुरू किया। उस दिन कई ई-रिक्शा को जब्त भी किया गया था। टोटो जब्त करने को लेकर चालको ने पुलिस कमिश्रनरेट के सामने हंगामा शुरू किया। इतना ही नहीं बल्कि सड़क जाम कर पुलिस के अभियान के विरूद्ध आवाज भी बुलंद की थी। ट्रैफिक पुलिस की तरफ से ई-रिक्शा चालकों समझाया गया, लेकिन वे लोग मानने को तैयार नहीं हुए। जिसके बाद माटीगाड़ा थाना की पुलिस ने प्रदर्शन कर रहे करीब 50 लोगो को गिरफ्तार की थी।


ई-रिक्शा चालकों का कहना है कि अगर ई-रिक्शा अवैध है तो शोरूम क्यू ई-रिक्शा बेच रहे है। ई-रिक्शा चालकों ने यह भी कहा है कि अगर ई- रिक्शा नहीं चलाएंगे तो उन्हें मजबूरन अपने घर चलाने के लिए गलत काम करने पड़ेंगे।पुलिस प्रशासन को इस मामले पर गंभीरता से विचार करना चाहिए।

पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मुख्य सड़क और हाइवे पर चलने वाली ई -रिक्शा के खिलाफ अभियान कमिश्नर गौरव शर्मा के नेतृत्व में शुरू हुआ है। इसलिए प्रतिदिन शहर के विभिन्न ट्रैफिक गार्ड नियम को तोड़ने वाले ई - रिक्शा को जब्त कर पुलिस कमिश्रनरेट मैदान में खड़ी कर रही है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.