गाजोलडोबा के 'भोरेर आलो' में बंगाल हिमालयन कार्निवाल का आयोजन

राजगंज,7 फरवरी (नि.सं.)। तीन दिवसीय बंगाल हिमालयन कार्निवाल का आयोजन किया गया है।शुक्रवार को दार्जिलिंग,शनिवार को कालिम्पोंग में आयोजित होने के बाद आज गाजोलडोबा के 'भोरेर आलो' में उक्त बंगाल हिमालयन कार्निवाल का आयोजन किया गया है।


यह उत्सव राज्य के पर्यटन विभाग के सहयोग से हिमालयन हॉस्पिटैलिटी एंड टूरिज्म डेवलपमेंट नेटवर्क (एचटीडीएन) के द्वारा आयोजित किया गया है। उक्त उत्सव विभिन्न कार्यक्रमों के माध्यम से उत्तर बंगाल के पर्यटनचित्र को दर्शाया गया है। साथ ही पर्यटन के विकास के पहलुओं के बारे में अवगत करवाया गया है। एचटीडीएन के सलाहकार राज बसु ने कहा कि राज्य में पूर्व से पश्चिम-उत्तर से दक्षिण तक पर्यटन की व्यापक संभावनाएं हैं।

उत्तर बंगाल में पहाड़ और डुआर्स के अलावा काफी हिस्सों को लेकर हिमालय पर्वत है।इस मुद्दे को देश और दुनिया के लोगों के ध्यान में लाने के लिए उत्तर बंगाल में बंगाल हिमालयन कार्निवल शुरू किया गया है।पर्यटन मंत्री गौतम देव ने कहा कि उत्तर बंगाल सहित पूरे राज्य में पर्यटन विकास होने की काफी संभावनाएं हैं। लेकिन केंद्र सरकार की तरफ से ज्यादा सहयोग नहीं मिल रहा है। कोरोना महामारी के कारण आईटी सेक्टर से सबसे अधिक नुकसान पर्यटन उद्योग को हुआ है।


राज्य सरकार अपनी सीमित क्षमता के बावजूद पर्यटन को विकसित करने के अपने प्रयासों को जारी रखे हुए है।हम चाहते हैं कि पर्यटन विकास के हित में केंद्र सरकार अपने बजट की समीक्षा कर पर्यटन विकास योजना को अपनाए और पर्यटन से जुड़े बिजली और परिवहन सहित विभिन्न मुद्दों पर आसान ऋण प्रदान करे। सा ही केंद्र सरकार करों से छूट दे।

इस अवसर पर जलपाईगुड़ी के जिलाशासक मौमिता गोधरा बसु, गाजोलडोबा डेवलपमेंट अथॉरिटी के वाइस चेयरमैन तथा राजगंज विधायक खगेश्वर राय, वन विभाग के पार्कस गार्डेन विभाग के उत्तर बंगाल डीएफओ अंजन गुह, मालबाजार के महकमाशासक सांतनु बाला, सी आई आई के चयेरमैन संजय ट्रीब्रुयान समेत अन्य लोग उपस्थित थे।

 

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.