हीरोइन बनने का सपना लेकर घर से भागी तीन छात्राओं को पुलिस ने किया बरामद

सिलीगुड़ी, 28 सितंबर (नि.सं.)। हीरोइन बनने की चाहत में घर से भागकर दिल्ली जा रही तीन छात्राओं को पुलिस की मदद से बरामद कर लिया गया है। सोमवार की सुबह सिलीगुड़ी के 35 नंबर वार्ड के निवासी तीन छात्रा ट्यूशन जाने के लिए घर से निकली थी। इसके बाद से उनका कोई पता नहीं चल पाया। बाद में परिवार वालों की ओर से एनजेपी थाने में एक गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवायी गयी। जिसके बाद जांच में जुटी पुलिस ने रात को तीन छात्रों को जलपाईगुड़ी से बरामद किया।


एनजेपी थाने में तीन छात्रों से पूछताछ के बाद पता चला है कि तीन छात्रों में से एक छात्रा की दिल्ली के एक युवक से मोबाइल फोन पर संपर्क हुआ। उक्त युवक के कहने पर वे लोग कोलकाता से दिल्ली जाने वाले थे। वहीं, बाकी दो छात्रों को हीरोइन बनने के ख्वाब था। इसलिए वे भी दिल्ली जाना चाहती थी। जिसके बाद तीनों छात्रों ने सिलीगुड़ी जंक्शन से बस पर बैठकर जलपाईगुड़ी पहुंची। वहां से वे लोग कोलकाता जाने वाली बस में चढ़ने वाली थी। लेकिन इससे पहले ही पुलिस ने तीनों छात्राओं को बरामद कर लिया।

हालांकि, पुलिस को शक है कि इसके पीछे कोई बड़ा गिरोह काम कर रहा है। साथ ही पुलिस को यह भी संदेह है कि छात्रों को विभिन्न प्रलोभन देकर सिलीगुड़ी से तस्करी की जा रही है।


दार्जिलिंग जिला लीगल ऐड फोरम के एक सदस्य अमित सरकार ने कहा कि लॉकडाउन के बाद से सिलीगुड़ी में इस मामले में एक गिरोह काम कर रहा है। नाबालिगों और युवतियों को प्यार के जाल में फंसाकर और तरह-तरह के प्रलोभन दिखाकर कहीं और आने के लिए कहा जा रहा है। वहां से उनकी दूसरी जगह तस्करी करने की योजना होती है। इस तरह की घटनाएं पहले भी कई जगह हो चुकी हैं। पुलिस को इस चक्र में शामिल लोगों को पकड़ना चाहिए।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.