काबुल से सकुशल लौटे दार्जिलिग के निवासी राजेश थापा, बोले और कुछ ही वहां रहता तो मर जाता

सिलीगुड़ी, 23 अगस्त (नि.सं.)। अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के बाद काबुल में खराब होती सुरक्षा स्थिति के मद्देनजर भारत वहां से अपने नागरिकों को बाहर निकाल रहा है। अफगानिस्तान संकट के दौरान काबुल में फंसे दार्जिलिग के निवासी दार्जिलिंग के निवासी राजेश थापा सकुशल भारत लौट आए।


जिले के लगभग 200 निवासी अफगानिस्तान में फंसे हुए थे। उन्हें वापस लाया जा रहा है। आज सुबह से कई लोग सिलीगुड़ी बागडोगरा हवाई अड्डे पर उतरे हैं। दार्जिलिंग के निवासी राजेश थापा लंबे समय से काबुल में सुरक्षा गार्ड के तौर पर काम करते थे।

हवाई अड्डे पर उतरे के बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि जिस तरह से सरकार हमें वहां से लाई है, उसके लिए हम आभारी हैं। अगर मैं और कुछ ही वहां रहता तो मर जाता। मैं वायु सेना की मदद से देश लौटने में सफल रहा हूं। अफगानिस्तान में हर कोई डरा हुआ है। सभी लोग वहां से भागने की कोशिश कर रहे हैं। तालिबान हथियार लेकर घूम रहे हैं। इतना ही नहीं वे लोग इधर-उधर गोली चला रहे है। यह गोली किसी को भी लग जा सकती है।


प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.