एनआरसी और सीएए के खिलाफ ममता ने लोगों से एकजुट होने का किया आह्वान

दार्जिलिंग, 22 जनवरी (नि.सं.)। दार्जिलिंग के मोटर स्टैंड पर आयोजित एक सभा को संबोधित करते हुए राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने आज फिर कहा कि बंगाल में किसी कीमत पर सीएए और एनआरसी को लागू नहीं होने दिया जायेगा। साथ ही उन्होंने केंद्र की भाजपा सरकार के खिलाफ धर्म व जाति के नाम पर राजनीति करने का आरोप लगाया।


मुख्यमंत्री ने कहा कि बंगाल में विभिन्न जाति, धर्म और संप्रदाय के लोग रहते हैं, जिन्हें एकजुट होना है। यदि एनआरसी और सीएए को लागू किया गया, तो देश के लोगों को विभिन्न समस्याओं का सामना करना पड़ेगा। इसलिए वे इसका विरोध करती आ रही हैं। इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने आज दार्जिलिंग में भाजपा पर जम कर निशाना साधा।

मुख्यमंत्री आगे कहा कि वे पहाड़ की जनता की रक्षा के लिये अपनी जान तक दे सकती हैं। उन्होंने सीएए, एनपीआर और एनआरसी के खिलाफ लोगों से एकजुट होने का आह्वान किया। उन्होंने सभा के अंत में उपस्थित हजारों लोगों के साथ नारे भी लगाए।


सभा से पहले सीएए और एनआरसी के खिलाफ दार्जिलिंग में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के नेतृत्व में एक प्रतिवाद रैली भी निकाली गयी, जिसमें गोजमुमो, हिल तृणमूल कांग्रेस के अध्यक्ष, 16 विकास बोर्डों के सदस्य, विभिन्न संगठनों और धार्मिक संगठनों के प्रतिनिधियों सहित बड़ी संख्या में लोग एकत्रित हुए।

कार्यक्रम में सांसद शांता छेत्री, एनबीडीडी चेयरमैन अमर सिंह राई, जीटीए चेयरमैन अनित थापा, हिल तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष एलबी राई, गोजमुमो अध्यक्ष विनय तामांग, दार्जिलिंग नगरपालिका के चेयरमैन सहित काफी संख्या में लोग उपस्थित थे।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.