राजगंज में सीपीएम नेता मोहम्मद सलीम व अशोक भट्टाचार्य ने दुष्कर्म पीड़ितों के परिवार से की मुलाकात

राजगंज, 16 सिंतबर (नि.सं.)। राजगंज के संन्न्यासीकाटा में तीन पीड़ित नागालिगों के मामले में आरोपी को कड़ी सजा नहीं दी गयी तो सीपीएम सुप्रीम कोर्ट में केस दायर करेगी।


आज सीपीएम नेता मोहम्मद सलीम और सिलीगुड़ी नगर निगम के प्रशासक मंडली के चेयरमैन अशोक भट्टाचार्य ने तीनोें दुष्कर्म पीड़ितों के परिवार वालों से मुलाकात की। उन्होंने परिवार के सदस्यों के साथ सभी मुद्दों पर चर्चा किया।

इस संबंध में मोहम्मद सलीम ने कहा हमने पीड़ितों के परिवारों से बातचीत की है। राज्य बाल संरक्षण आयोग से आने वाले लोग अपराधियों को छिपाने के लिए परिकल्पित रूप से आये थे।यदि यह नहीं है तो पोस्टमार्टम की रिपोर्ट आने से पहले उन्होंने कैसे कहा कि सामूहिक बलात्कार नहीं हुआ है? लेकिन परिवार के सदस्यों ने दोषियों को फांसी देने की मांग की है। हमने भी यह ही मांग की है।


जरूर पड़ी तो हम सुप्रीम कोर्ट में जायेगे। ज्ञात हो कि गत 10 अगस्त की शाम को राजगंज में संन्न्यासीकाटा ग्राम पंचायत के लालस्कूल बालाबाड़ी की निवासी एक नाबालिगा के साथ सामूहिक बलात्कार व उसकी हत्या कर उसे शव को एक सेप्टिक टैंक में फेंक दिया गया था।

राजगंज पुलिस ने इस मामले में तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया था। दूसरी ओर,उक्त ग्राम पंचायत में 4 सितंबर को दो नाबालिगा बहन अपने चाचा के घर से लौट रही थी। तभी पांच युवकों ने उसे रास्ते से उठा लिया था। आरोप है कि एक चाय बागान ले जाकर उनके साथ बलात्कार किया गया था। इस घटना राजगंज पुलिस ने पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया था।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.