कोरोना वैक्सीन को लेकर लोगों में बढ़ी जागरूकता,टीकाकरण के दूसरे दिन बढ़ाये गये वैक्सीन की डोज

सिलीगुड़ी, 18 जनवरी (नि.सं.)।16 जनवरी 2021 से पूरे देश के साथ बंगाल में भी कोविद शील्ड टीका देने की प्रक्रिया शुरू की गई थी। आज वैक्सीन देने के दुसरे दिन संख्या बढ़ा दी गई। स्वास्थ्य विभाग को आज अनुमान है कि आज वैक्सीन की खुराक शत प्रतिशत होगा।


क्योंकि पहले दिन दिए गए टीकों का प्रतिशत उत्तर बंगाल के 8 जिलों में कम था,जो स्वास्थ्य विभाग के लिए एक नई चिंता का कारण बना है, जहां 1 दिन में प्रत्येक सरकारी अस्पतालों में 100 स्वास्थ्य कर्मियों को कोविड शील्ड का टीका लगाना था, वहां पर 100 में 70 चिकित्सक ही पहले दिन कोरोना का टीका लगवाए हैं।पहले दिन कालिम्पोंग प्रथम संस्थान पर रहा।जहां पर कोरोना का वैक्सीन डोज प्रतिशत पूरी तरीके से 100% पर रहा।

वहीं, दार्जिलिंग जिला दूसरे स्थान पर रहा।दार्जिलिंग जिला में पहले दिन 99.6 प्रतिशत वैक्सीन डोज प्रतिशत रहा। बाकि के 6 जिला में वैक्सीन का प्रतिशत काफी कम रहा। 6 जिला में 100 में से सिर्फ 70 चिकित्सक ने वैक्सीन लिया। सबसे कम वैक्सीन का डोज मालदा में लगा। मालदा में वैक्सीन का डोज प्रतिशत 54.5 प्रतिशत रहा।


यहां पर आपको बताते चले कि उत्तर बंगाल के 8जिला में पहले दिन स्वास्थ्य विभाग ने 4400 चिकित्सक को वैक्सीन देने का लक्ष्य रखा था,लेकिन पहले दिन कुल 8 जिला में सिर्फ 2914 चिकित्सक को कोविड शील्ड वैक्सीन का टीका लगाया गया।पहले दिन कुल 8 जिलो में वैक्सीन डोज 66.22 प्रतिशत रहा।स्वास्थ्य विभाग द्वारा तय किये गय लक्ष्य से 34 प्रतिशत कम रहा।सोमवार को वैक्सीन देने का दुसरे दिन स्वास्थ्य विभाग की तरफ से वैक्सीन लेने वाले चिकित्सक की संख्या बढ़ाई गई है।आज मेडिकल कॉलेज में 120 चिकित्सक को वैक्सीन दिया जाएगा।

कोविड केयर नेटवर्क के को-ऑर्डिनेटर कल्याण खां ने बताया कि पहले दिन केंद्र सरकार की कोविंग एैप में समस्या रहने के कारण वैक्सीन की डोज प्रतिशत कम थी।लेकिन आज कोविंग के माध्यम से चिकित्सकों को वैक्सीन दिया जा रहा है।आज मैनुअल तरीके से आज नहीं हो रहा है। आज से वैक्सीन की संख्या बढ़ा दिया गया है।साथ ही अब चिकित्सक अब वैक्सीन ले रहे हैं।

वैक्सीन को लेकर लोगों में जागरूकता बढ़ रही है। डॉक्टर कल्याण खां ने चिकित्सकों को केंद्र करके कहा कि चिकित्सक खुद के लिए नहीं बल्कि अपने मरीजों को स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए समाज को ध्यान में रखते हुए वैक्सीन लेने के लिए आगे आए।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.