जंक्शन बस स्टैंड एसोसिएशन ने दूसरे राज्य से आने वाले यात्रियों के लिए आरटी-पीसीआर टेस्ट किया अनिवार्य

सिलीगुड़ी, 6 मई (नि.सं.)। तीसरी बार मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेने के बाद ही ममता बनर्जी ने कोरोना की दूसरी लहर को कम करने के लिये एक नई निर्देशिका जारी की। जिसके तहत आरटी-पीसीआर टेस्ट का रिपोर्ट नेगेटिव रहने वाले को ही बंगाल में प्रवेश करने की अनुमति रहेगी। पब्लिक ट्रांसपोर्ट में सीट क्षमता के अनुसार आधे यानी 50% यात्रियों को ही एक बार में ट्रैवल कर सकते हैं।


सिलीगुड़ी जंक्शन बस एसोसिएशन के कैशियर आनंद गुप्ता उर्फ सोनू गुप्ता ने कहा कि नवान्न से जो निर्देशिका जारी की गई है। वह आज उन लोगों को मिली है। उसके अनुसार ही वे लोग बाहर से सिलीगुड़ी आने वाले यात्रियों का तो आरटीपीसीआर रिपोर्ट देख रहे है। इसके साथ ही वे लोग सुरक्षा के तहत सिलीगुड़ी से बाहर जाने वाले लोगों को आरटीपीसीआर टेस्ट करवाने को कह रहे है।

जिन यात्रियों का रिपोर्ट नेगेटिव आएगा। उन लोगों को ही टिकट दिया जा रहा है। इसके अलावा जंक्शन बस स्टैंड में जितने बस काउंटर हैं।उन सभी काउंटर के सदस्यों को 50% यात्रियों को ही टिकट देने का निर्देश दिया गया है। यात्रियों की सुरक्षा को देखते हुए यात्री के बैठने वाले सीट को लगातार सैनिटाइजेशन किया जा रहे है। सोनु गुप्ता ने कहा कि गत वर्ष भी महामारी में उन लोगों ने सुरक्षा व्यवस्था को ध्यान में रखते हुए इस तरीके के कदम उठाए थे। इस बार सरकारी जो निर्देश दिया गया उसी के अनुसार वे लोग बस पड़ीसेवा को चला रहे हैं।


फिलहाल वर्तमान समय में यात्रियों की संख्या काफी कम हो गई है, जहां पहले 70 से 80 बस प्रतिदिन चला करती थी, अभी वर्तमान में 20 से 30 बसें प्रतिदिन चल रही है। सोनू गुप्ता ने आगे कहा कि वह लोग प्रशासन से मांग करते हैं कि स्टैंड में बाहर से बहुत सारे यात्री आते हैं। जिन लोगों को टेस्टिंग का जगह पता नहीं रहता है। इसीलिए प्रशासन अगर जंक्शन बस स्टैंड के आसपास में कहीं एक टेस्टिंग सेंटर खोल दे तो उनके एवं यात्रियों के लिए काफी सहूलियत होगी।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.