नदी डस्टबिन नहीं है, इस संदेश के साथ फुलेश्वरी नदी को प्लास्टिक के नेट से घेरने का काम शुरू

सिलीगुड़ी, 27 अगस्त (नि.सं.)। नदी डस्टबिन नहीं है, इस संदेश के साथ फुलेश्वरी नदी को परिखा मूलक प्लास्टिक के नेट से घेरने का काम शुरू कर दिया गया है। नदियों को बचाने के लिए यह पहल सिलीगुड़ी नगर निगम के तीन नंबर बोरो कमेटी की तरफ से शुरू किया गया है।   


इस दौरान वार्ड नंबर 20 के पार्षद अभया बोस, तीन नंबर बोरो के चेयरमैन मिल्ली सिन्हा आदि मौजूद थे। इस दिन पुल की रेलिंग पर जाल बिछाया गया ताकि लोग नदी में कचरा न फेंक सकें। 

इस विषय पर तीन नंबर बोरो के चेयरमैन मिल्ली सिन्हा ने कहा कि लोगों में जागरूकता की कमी है। लोग पुल से सीधे नदी में गंदगी फेंक रहे है। यही सोचकर प्लास्टिक के जाल लगाए गए है। वहीं, नदी के चारों तरफ कूड़ेदान को रखा गया है। यदि यह सफल हो जाता है, तो लोहे के जाल के साथ नदी को घेर दिया जाएगा।


वहीं, वार्ड नंबर 20 के पार्षद अभया बोस ने कहा कि वार्ड नंबर 20 और 23 को जोड़ने वाली फुलेश्वरी नदी पर बना पुल जर्जर हो गया है। इस पुल को लेकर मेयर से चर्चा हो चुकी है। जल्द ही नगर निगम इस पुल के साथ – साथ सभी पुलों को चिन्हित कर निर्माण करेगी।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *