सिलीगुड़ी के सुदीप्तो मजूमदार को मिला वरिष्ठ अधिवक्ता का सम्मान, सिक्किम हाईकोर्ट ने जारी की सूची 

सिलीगुड़ी, 30 सितंबर (नि.सं.)। सिक्किम हाईकोर्ट ने चार वरिष्ठ अधिवक्ताओं को सम्मानित किया है। जिनके नाम सुजय सिंह हमाल, सुदीप्तो मजूमदार, डॉ. डोमा टी भूटिया और जोरगए नेमका है। इन नामों में एक नाम सुदीप्तो मजूमदार ने सिलीगुड़ी का मान बढ़ाया है। क्योंकि सुदीप्तो मजूमदार सिलीगुड़ी के रहने वाले है। उनका जन्म सिलीगुड़ी के प्रतिष्ठित शिक्षाविद परिवार में हुआ है।


एक शिक्षाविद परिवार में जन्मे सुदीप्तो मजूमदार के पिता सिलीगुड़ी कॉलेज के अध्यापक रह चुके है। जबकि सुदीप्तो मजूमदार ने उत्तर बंगाल के विश्वविद्यालय से बीएससी ऑनर्स किया है। इसी विश्वविद्यालय से उन्होंने कानून की पढ़ाई और डिग्री प्राप्त किया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार, सुदीप्तो मजूमदार ने वर्ष 1999 में वकालत की पढ़ाई शुरू की थी। इस दौरान उन्हें कई उतार-चढ़ाव से गुजरना पड़ा। फिर भी वह अपने लक्ष्य की तरफ निरंतर बढ़ते रहे और पीछे मुड़कर नहीं देखा।


अपने पिता को आदर्श मानने वाले सुदीप्तो मजूमदार बताते है कि वकालत की पढ़ाई के दौरान जब वह निराश और हताश हो गए थे। तब पिता ने उसका हौसला बढ़ाते हुए कहा कि आप अपने पर भरोसा रखो और आगे बढ़ते रहो। एक न एक दिन आपको अपना लक्ष्य मिलेगा।

उनका कहना है कि आज वह अपने पिता के प्रोत्साहन से यहां पहुंचे हैं। वरिष्ठ अधिवक्ता के रूप में उनको मिले सम्मान उन सभी अधिवक्ताओं का सम्मान है जो मेहनत और अपनी काबिलियत को नहीं भूलते है। शिक्षाविद परिवार में जन्मे सुदीप्तो मजूमदार लोगों का आदर्श बनना चाहते है। वहीं, उन्होंने सम्मान से नवाजे जाने पर सिक्किम हाईकोर्ट का आभार प्रकट किया है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.