तूणमूल के दो गुटों के बीच संघर्ष, करवेज के लिये गये 7 पत्रकारों पर हमला

राजगंज, 23 जुलाई (नि.सं.)। तूणमूल के दो गुटों के बीच हुए संघर्ष के बारे में खबर प्राप्त करने गए पत्रकारों पर हमला किया गया है। आज तृणमूल पार्टी के एससी एसटी ओबीसी सेल के कार्यकर्ता तृणमूल द्वारा संचालित राजगंज के सुखानी ग्राम पंचायत प्रधान को ज्ञापन देने गए थे।तृणमूल के कई कार्यकर्ता-समर्थकों ने पार्टी के झंडे लेकर एक रैली के माध्यम से ग्राम पंचायत कार्यालय पहुंचे। लेकिन उन्हें कार्यालय में प्रवेश नहीं करने दिया गया।


इसकेे बाद घटना को लेकर पार्टी के दो गुट आपस में भिड़ गए। कथित तौर पर उस समय कुछ कार्यकर्ताओं ने 7 पत्रकारों पर हमला किया। घटना के बाद घायल पत्रकारों को इलाज के लिये राजगंज ग्रामीण अस्पताल ले जाया गया।

फिलहाल पत्रकारों की ओर से राजगंज थाने के आईसी पंकज सरकार के पास मौखिक शिकायत दर्ज करवायी गई है। तृणमूल के एससी एसटी ओबीसी सेल के राजगंज ब्लॉक के कार्यवाहक अध्यक्ष पूर्णचंद्र राय ने कहा कि ग्राम पंचायत प्रधान संपा दत्त 100 दिन के काम को लेकर भ्रष्टाचार कर रही हैं। पार्टी के कार्यकर्ताओं को आंदोलन कर 100 दिन का काम लेना पड़ रहा है।


प्रत्येक जॉब कार्ड धारक के लिए 100 दिन के काम, अवैध जॉब कार्ड को रद्द कर नया कार्ड देने समेत कई मांगों को लेकर वे लोग ग्राम पंचायत पहुंचे थे, लेकिन हमें कार्यालय में प्रवेश नहीं करने दिया गया। हम पर हमला करने के अलावा पत्रकारों को भी पीटा गया। यह बहुत निंदनीय है।

इस घटना को लेकर थाने में एक शिकायत दर्ज करवायी जायेगी। जलपाईगुड़ी जिले में तृणमूल युवा कांग्रेस के उपाध्यक्ष शेख उमर फारूक ने कहा कि ज्ञापन सौंपने से पहले कोई अग्रिम सूचना नहीं दी गई थी। साथ ही जो लोग ज्ञापन देने आए थे वे तृणमूल पार्टी नहीं करते है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.